ICSSR Sponsored National Seminar Organised by P.G Dept. Of Punjabi

ICSSR Sponsored National Seminar Organised by P.G Dept. Of Punjabi

देव समाज काॅलेज फाॅर वूमेन फिरोजपुर शहर, प्रिंसीपल मैडम डाॅ मधु पराशर जी के सयोग्य निदे्रशन में नित्य मुकाम हासिल कर रहा है। पोस्ट ग्रेजुएट पंजाबी विभाग की तरफ से 3 अप्रैल 2019 को नानक बाणी मीडिया, समाज और सभ्याचार, विषय अधीन इंडियन कोंसल आॅफ शोषल साइंस रिसर्च के सहयोग से एक दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया गया। जिसमें देश के विभिन्न हिस्सों से विद्वान व विशेषज्ञों ने भाग लिया। सेमिनार में विषेष रूप से पहुॅचे मेहमानों में डाॅ सुखदेव सिंह सिरसा ;पंजाब यूनिवर्सिटी, चण्डीगढ़द्ध, डाॅ जगबीर सिंह”, पंजाबी यूनिवर्सिटी, पटियाला, डाॅ जीत सिंह जोषी, पंजाबी यूनिवर्सिटी, रीजनल सेंटर, बठिंडा, डाॅ कुलदीप सिंह कुरूक्षेत्र यूनिवर्सिटी, कुरूक्षेत्रद्ध डाॅ हरदेव सिंह, श्री गुरू ग्रन्थ साहिब वर्लड यूनिवर्सिटी, फतेहगढ़ साहिबद्धए डाॅ सिकन्दर सिंह, श्री गुरू ग्रन्थ साहिब वर्लड यूनिवर्सिटी, फतेहगढ़ साहिबद्धए डाॅ रविन्दर सिंह दयाल सिंह काॅलेज, दिल्ली, शामिल हुए। सम्बन्धित विषय अपने विचार प्रक्ट करते हुए इन विद्वानों ने नानक वाणी को मीड़िया के माध्यम से प्रचार और प्रसार हित प्रकाष डाला और कहा कि वर्तमान युग में नानक वाणी की प्रांसगिकता और भी बढ़ जाती है। आज मनुष्य वैष्वीकरण और टेक्नालाॅजी के प्रभाव अधीन बदल रही जीवन शैली को नमी सेध व दिषा दे सकता है।

इस मौके काॅलेज प्रिंसीपल मैडम डाॅ मधु पराषर ने आए हुए सभी विद्वानों, विशेषज्ञों, शोधार्थियों का काॅलेज पहुॅचने पर स्वागत किया। उन्होंने अपने स्वागती भाषण में कहा कि देव समाज काॅलेज पंजाब पंजाबी और पंजाबियत की बेहतरी के लिए सदैव तत्पर रहता है। साथ ही उन्होंने गुरू नानक वाणी की समाज को देन, के उपर प्रकाष डालते कहा कि नानक वाणी आधुनिक समाज की त्रासद स्थिति को दूर कर कारगर सिद्व हो सकती है। आए हुए विद्वानों ने उक्त विषय के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाष डाला, साथ ही उन्होंने काॅलेज प्रिंसीपल मैडम डाॅ मधु पराषर जी के कर्मठ मेहनत व परिश्रम के परिणामस्वरूप सफलता के िशखर को छू रहा है। उल्लेखनीय है कि पंजाबी विभागाध्यक्षा प्रों नवदीप कौर जी ने इस सारे प्रबन्ध में विषेष भूमिका निभाई। डाॅ नरिन्दर कौर ने प्रबन्धकी सेक्रेटरी का कार्य सम्भाला और मंच संचालन प्रो परमवीर कौर की तरफ से हुआ। इसके अतिरिक्त डाॅ गुरप्रीत कौर, प्रो कमलदीप कौर, डाॅ चरनजीत कौर, प्रो मनजीत कौर का विषेष योगदान रहा।

यहा उल्लेखनीय है कि इस सेमिनार का सारा कुषल प्रबन्ध डीन काॅलेज डिवेल्पमेंट इंजी प्रतीक पराषर जी के दिषा निर्देषन अधीन हुआ।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *